Home स्वास्थ BP Low symptoms || BP low causes, diet, home remedies and Ayurveda...

BP Low symptoms || BP low causes, diet, home remedies and Ayurveda treatment in hindi

BP Low symptoms
BP Low symptoms

भागदौड़, स्ट्रेस, व्यस्थता आज कल के कुछ  बड़े ही नार्मल से दिनचर्या के पार्ट हैं।  इनका नतीजा लो ब्लड प्रेशर।  तो आज हम बात करेंगे BP Low symptoms और BP low causes, diet, home remedies, and Ayurveda treatment in Hindi।

तो चलिए समझते हैं एक एक कर के ताकि जीवन को नए आयाम पर ले जाएँ।

Low Blood Pressure Kya Hai

लो ब्लड प्रेशर या निम्न रक्तचाप को हाइपोटेंशन भी कहते हैं।

Low Blood Pressure का मतलब है कि हृदय, मस्तिष्क और शरीर के अन्य भागों में पर्याप्त रक्त नहीं पहुंच पाता।

Low BP तब होता है, जब ब्लड प्रेशर सामान्य से काफी कम हो जाता है।  सामान्य रूप से BP, 120/80 (सिस्टोलिक/डायस्टोलिक) से कम होना चाहिए।

सिस्टोलिक के लिए 90 मिलीमीटर एचजी से कम और डायस्टोलिक के लिए 60 मिलीमीटर एचजी से कम को Low Blood Pressure कहते हैं।

यह भी पढ़ें

Khoon saaf kese kren
Remove Dark Circles
Dant Dard Ka Turant Ilaj
High BP

BP Kaise Check Kare

वैसे तो आज कल काफी तरिके आ गए हैं लोग तो मोबाइल से भी BP चेक कर लेते हैं।  पर हम सुझाव देंगे की आप इन सभी तरीकों में ना पड़ें।

BP चेक करने के लिए Sphygmomanometer नामक यंत्र का प्रयोग किया जाता है। ये सामान्य और डिजिटल दोनों ही रूप में मिल जाता है ।

अगर आप घर में BP चेक कर रहे हैं तो Mercury Sphygmomanometer का इस्तेमाल कर सकते है।

Fully Automatic Digital Blood Pressure Monitor खरीदें
Rossmax GB102 Aneroid Blood Pressure Monitor खरीदें
Dr. Morepen Bp02 Automatic Blood Pressure खरीदें

बाकी आप किसी भी पास की हॉस्पिटल में जा के चेक करवा सकते हैं।

ऐसे पहचानें लो ब्लड प्रेशर के लक्षण | Low Blood Pressure Symptoms

आप आप को भी निम्मन Symptoms हैं तो ये Low Blood Pressure हो सकता है।

  • सिर चकराना
  • बेहोशी
  • धुंधली दृष्टि
  • जी मिचलाना
  • थकान
  • ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई (ध्यान ना लगना)
  • भ्रम होना
  • स्किन का ठंडा पड़ना specially हाथ पैर
  • रूखी त्वचा
  • सांस फूलना

तो कभी भी लगे की आप को उपरोक्त BP Low symptoms हैं तो आप तुरंत अपना BP चेक करें

तो अभी तक हम समझ चुके हैं की कैसे पता लगाएं की आप को लौ ब्लड प्रेसर है और इसका क्या मतलब होता है, यानी Low Blood Pressure Kya Hai और Low Blood Pressure Symptoms kya hain।

Causes Of Low BP निम्न रक्तचाप के कारण

खून की कमी

BP का मुख्य कारण है खून का सही मात्रा में ना पहुंचना।  कभी कभी चोट लग जाने से या अन्य किसी वजह से शरीर में खून की कमी हो जाती है और इसका कारण होता है Low BP।

कमजोरी वा न्युट्रिशन की कमी

हम लोग बस पेट भरने के लिए ही खाना खाते हैं , जिस कारण पोषण की कमी और कमजोरी हो जाती है।

जब हमारे शरीर को पर्याप्त मात्रा न्युट्रिशन नहीं मिल पाता है तो लाल रक्त कोशिकाएं नहीं बना पाती हैं , जिससे  low BP हो जाता है।

हृदय रोग

हृदय से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या होने पर Low BP हो सकता है।

पानी की कमी

इसकी वजह से हमारी आंतें कमज़ोर हो जाती हैं जिस से हमारी नसें कमजोर होने लगती हैं और परिणाम Low BP।

गर्भावस्था / प्रेगनेंसी

महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान  Low BP की समस्या हो जाती है, क्योंकि इस दौरान सर्कुलेटरी सिस्टम तेजी से बढ़ता है और ब्लडप्रेशर कम हो जाता है।

दवाइयां

कई बार हम ऐसी कोई दवाइयां ले लेते हैं जिनका रिजल्ट होता है  low BP। दवाइयां जैसे हाई ब्लड प्रेशर की, हार्ट प्रॉब्लम्स की , यौन शक्ति  बढ़ाने की आदि।

तो ये थे causes of low bp अब बात करते हैं low bp ka ilaj कैसे करें।

Low BP ka Ilaj

हमने Law BP ka ilaj को 3 categories में बांटा है |

Low BP ka Ilaj

BP Low home remedy  – > Low Blood Pressure Treatment In Ayurveda in Hindi – > Diet, And Lifestyle For Low BP

तो अगर आप इन में से बस लास्ट वाला फॉलो करें तो चान्सेस बहुत कम हैं की आप को Low Blood Pressure के Treatment की जरूरत पड़े।

साथ ही अगर आप को BP Low के Symptoms दिखें तो तुरंत आप पहले दो तरीकों को ट्राई कर सकते हैं (in hindi)।

BP Low Home Remedy

किशमिश/मुनक्का

BP Low की समस्या में मुनक्का भी बड़ा ही  फायदेमंद होता है। रात को कुछ दाने किशमिश/मुनक्का को भिगो लें। सुबह उन्हें दूध के साथ उबाल लें।

अगर आप इसका सेवन रोज़ करें तो आप को इस समस्या से निज़ात मिल जाता है . यह आप के शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है।

साथ ही अगर आप रोज़ दूध का सेवन करते हैं तो इसका फायदा आप के पुरे शरीर को मिलता है।

बादाम दूध

दूध में बादाम डालना है क्योंकि ये advertisment तो आपने देखा ही होगा। बादाम दूध के अनेक फायदे हैं चाहे वो दिमाग तेज़ करना हो या शरीर को मजबूत करना हो।

रात के समय 5-10 बादाम भिगो लें। सुबह उनके छिलके उतार कर उनका पेस्ट बना लें। फिर उसे दूध में मिला के पी लें।

अगर आप इसका सेवन रोज़ करें तो आपका ब्लड प्रेशर कभी नीचे नहीं आएगा।

तुलसी का पत्ते

तुलसी के पत्ते तो हर तरह की बीमारी में काम आते हैं।  स्वस्थ शरीर के लिए आप रोज़ सुबह कुछ तुलसी के पत्ते चबा सकते हैं।

तुलसी के पत्तों में अत्यधिक पोटैशियम, मैग्नीशियम और विटामिन-सी पाया जाता है।

तुलसी के पत्तों में पाए जाने वाले ये तत्व खून को सही से रेगुलेट होने में मदद करते हैं।

साथ ही इसमें मौजूद यूजेनॉल नाम का एक एंटी-ऑक्सीडेंट ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने और कॉलेस्ट्रोल लेवल को घटाने में बेहद मददगार है।

कैफीन

अगर आप को bp low के symptoms दिख रहे हैं तो आप तुरंत चाय या कॉफी पी सकते हैं।

Green Tea Ke Fayde

चाय या कॉफी जैसे कैफिनेटेड पेय आप को तुरंत लो ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत दिला सकते हैं।

ये थोड़े समय के लिए ही सही पर बड़ी राहत दिलाती है।

नमक

नमक स्वाद अनुसार तो आपने सूना ही होगा पर क्या आप को पता है अगर आप ज्यादा नमक का सेवन करते हैं तो यह आप के शरीर को नुकशान पहुंचाता है।

पर संतुलित मात्रा में नमक आप के bp के लिए बहुत ज़रूरी है।

अगर आप WHO की मानें तो आपकी डेली डाइट में एक चम्मच नमक जरूर होना चाहिए।

अगर आप डिहाइड्रेड फील कर रहें हैं तो आप एक गिलास निम्बू पानी पी सकते हैं।

छाछ

छाछ में नमक, भुना हुआ जीरा और हींग मिलाकर, इसका सेवन करते रहने से भी ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है।

अदरक

अदरक को छोटे छोटे टुकड़ों में काट लें फिर उसमें हल्का से नमक मिला लें (सेंधू नमक मिल जाये तो बहुत बढ़िया) फिर इसका सेवन रोज़ करें।

इससे ना सिर्फ low ब्लड प्रेसर से राहत मिलती है बल्कि मेटाबोलिज्म को भी फायदा मिलता है।

Low Blood Pressure Treatment In Ayurveda in Hindi

ब्राम्‍ही

ब्राम्‍ही Low ब्लड प्रेशर के लिए प्रयोग किया जाता है। इसके साथ थोड़ी  से दालचीनी लें आप को तरुंत राहत मिलेगी।

ब्राम्‍ही खरीदें 

अर्जुन की छाल का चूर्ण 

यह Low और हाई दोनों तरह के BP में काम आता है। अर्जुन की छाल का चूर्ण ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।

Arjun Chal Tablet खरीदें
Organicgreen Herb Arjun Ki Chaal खरीदें 

अश्वगंधा + शिलाजीत 

यह आप को मानशिक शक्ति देता है साथ ही Low BP को भी कण्ट्रोल में लाता है।

Diet and Lifestyle For Low BP

– खाने में नमक  समान्या रखें
– खुद को डिहाइड्रेड रखें पानी पीते रहें (How much water to drink a day in Hindi?)
– खुद से डॉक्टर ना बनें।  खुद से दवाई ना लें।
– स्ट्रेस ज्यादा ना लें
– नशे को कहें अलविदा
– हरी सब्ज़ी और फल खाते रहें
– खाने में अच्छे पौषक तत्वों का प्रयोग करें
– Exercise करें

अगर आप को BP Low symptoms दिखें तो एक बार डॉक्टर को जरूर दिखाएँ

उम्मीद करता हूँ आप समझ गए होंगे BP Low के symptoms।  साथ ही BP low causes, diet, home remedies, and Ayurveda treatment in Hindi आप को मदद करेंगे।  साथ ही आप अपने सुझाव या फीडबैक हमें कमेंट सेक्शन में बताएं।