Home स्वास्थ ब्रेन हैमरेज क्या होता है और इसके लक्षण ? | Bren Haimarej...

ब्रेन हैमरेज क्या होता है और इसके लक्षण ? | Bren Haimarej Kya Hota Hai Aur Isake Lakshan ?

टीवी एक्टर दीपेश भान की ब्रेन हैमरेज से हुई मौत के बाद हर कोई सदमे में है |

41 साल की उम्र के दीपेश भान क्रिकेट खेलेने के दौरान ग्राउंड पर ही गिर पड़े, उनको तुरंत हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी |

डॉक्टर्स के मुताबिक उनकी मौत की वजह ब्रेन हैमरेज है | 

जानिये आखिर क्या होता है ब्रेन हैमरेज और क्या होते हैं इसके लक्षण?

क्या है ब्रेन हैमरेज ( What is Brain Hemorrhage )

 मस्तिष्क (brain) हमारे शरीर का अहम हिस्सा है। अगर इसमें जरा सी भी समस्या हो जाए तो इसका असर पुरे शरीर पर पड़ है।

ऐसे में मस्तिष्क (brain) को सुरक्षित रखना बहुत ही जरूरी है। मस्तिष्क में कई तरह की समस्याएं होती हैं। इन्हीं समस्याओं में से एक है ब्रेन हेमरेज |

ब्रेन हैमरेज(brain hemorrhage) एक तरह से ब्रेन स्ट्रोक होता है जिसमें दिमाग में ब्लीडिंग हो जाती है | इस ब्लीडिंग की वजह कोई एक्सीडेंट, ब्रेन ट्यूमर, हाई ब्लड प्रेशर(High BP) या स्ट्रोक हो सकता है |

ब्रेन में ब्लीडिंग होने की वजह से दिमाग में ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो पाती और इससे ब्रेन सेल डेड हो सकती है | 



ये भी पढ़ें

मंकीपॉक्स : क्या होते हैं और इसके लक्षण



ब्रेन हेमरेज के लक्षण(Symptoms of brain hemorrhage)

ब्रेन हेमरेज के कई लक्षण नजर आ सकते हैं। ये इस पर निर्भर करता है की  ब्रेन के किस हिसे में नस फटी कहाँ पर ब्लीडिंग हो रही है | ब्रेन हेमरेज एक जानलेबा स्थिति होती है।

ऐसे में इसके लक्षण दिखने पर तुरंत मरीज को डॉक्टर के पास ले जाने की आवश्यकता होती है।

आइए जानते हैं इसके कुछ लक्षणों के बारे में –

  1. सुस्ती जैसा महसूस होना।
  2. अचनाक से सिरदर्द होना।
  3. दौरे पड़ना।
  4. उल्टी जैसा अनुभव होना।
  5. देखने में काफी ज्यादा परेशानी होना।
  6. बोलने में असुविधा
  7. मुँह से कुछ भी निगलने मे दिक्‍कत होना
  8. चक्कर आना।
  9. शरीर के अन्य हिस्से कम नहीं करते |
  10. बेहोशी जैसा अनुभव होना।
  11. बैठने में असमर्थ महसूस होना |

ब्रेन हेमरेज के कारण (Symptoms of brain hemorrhage )

ब्रेन हेमरेज के कई कारण हो सकते हैं। आइए जानते हैं इसके कुछ कारण –

  • सिर में चोट लगना।
  • हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी होना।
  • आर्टरी का बाहरी हिस्सा कमजोर होना।
  • आर्टरी में सूजन होना
  • ब्लड सर्कुलेशन होने में परेशानी
  • ब्लड से जुड़ी कोई बीमारी से ग्रसित होना (हीमोफिलिया, प्लेटलेट्स की कमी,      स्किल सेल एनीमिया इत्यादि।)
  • मस्तिष्क में ट्यूमर होना।

लिवर डिजीज होना इत्यादि।



ये भी पढ़े

कौन है द्रौपदी मुर्मू



 

ब्रेन हेमरेज से बचाव कैसे करे ( how to prevent brain hemorrhage)

ब्रेन हेमरेज से बचाव किया जा सकता है | साथ ही आप अपने लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करके भी ब्रेन हेमरेज की परेशानी से बच सकते हैं।

वहीं अपने लाइफस्टाइल को हेल्दी बनाए रखें। ताकि किसी भी तरह की शारीरिक और मानसिक परेशानियों का सामना न करना पड़े और  खुद को तनाव से दूर रखे।

  • हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखके रखें। अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, तो समय पर अपना इलाज कराएं। रोजाना एक्सरसाइज करें और नियमित रूप से बीपी चेक कराएं।
  • धूम्रपान पीने वालों को कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं।इसकी वजह से ब्लड वेसेल्स कमजोर होते हैं, जिसके कारण हेमरेज की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। इसलिए कोशिश करें कि धूम्रपान से दूरी बनाकर रखें।
  • दिमाग में चोट लगने पर ब्रेन हेमरेज की स्थिति हो सकती है। ऐसे में हमेशा गाड़ी चलाते वक्त हेलमेट पहनना न भूलें। 
  • अधिक मात्रा में दवाइयों के सेवन से बचें।ड़ॉक्टर की सलाह पर ही दवाइयों का सेवन करें।

ब्रेन हेमरेज एक जानलेवा स्थिति है। इसलिए कोई भी लक्षण दिखे तो आप नजरअंदाज न करें।  वहीं, ध्यान रखें कि शरीर में होने वाली किसी भी स्थिति में खुद इलाज न करें। डॉक्टर के परामर्श से ही अपना इलाज करे |