Home ज्ञान Chandra Grahan 2022 : क्या होता है चंद्र ग्रहण 

Chandra Grahan 2022 : क्या होता है चंद्र ग्रहण 

Chandra Grahan 2022
Chandra Grahan 2022

देश में लगने वाला है साल का आखरी चंद्र ग्रहण ऐसे में ये जान लेना जरूरी है की क्या होगा इसका असर किस पे होगा इसका असर कौन सी राशि की होगी बल्ले बल्ले और किसे रहना पड़ेगा सावधान 

आइये समझते हैं

पहले बता दें की ग्रहण को अशुभ माना जाता है खासकर अगर ग्रहण किसी त्यौहार के दिन हो तो उस से त्यौहार हल्का फीका हो ही जाता है। 

इस बार भी चंद्र ग्रहण कार्तिक पूर्णिमा( 8 नवंबर 2022) को है।  इसके पहले बीते 25 अक्तूबर को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लगा था |  

ध्यान देने वाली बात ये है की इस चंद्र ग्रहण को भारत में भी देखा जा सकेगा जिसके कारण सूतक काल मान्य होगा | 

आइए जानते है इस दिन क्या करे और क्या न करे और क्या होता है ग्रहण ?

क्या होता है चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022 ) ?

पृथ्‍वी सूर्य के चारो और चक्‍कर लगाती है और चंद्रमा पृथ्‍वी के चारो और चक्‍कर लगाता है | जब ऐसा होता है तो कभी एक समय ऐसा आता है की  पृथ्वी चंद्रमा और सूर्य के बीच में आ जाती है |

जब  तीनों एक ही लाइन में सीधे आ जाते है तो उस समय चंद्रमा तक सूर्य की रोशनी नहीं आ पाती है ,और इस कारण से चंद्र ग्रहण होता है | 

भारत में कब और कितने बजे लगेगा चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan 2022 )

साल का आखिरी चंद्र ग्रहण 8 नवंबर दिन मंगलवार के दिन शाम 5 बजकर 28 मिनट से शुरू होगा और शाम 7 बजकर 26 मिनट तक होगा |

  ग्रहण के 9 घंटे पहले से ही सूतक काल लगा जायेगा जो कि सुबह 8 बजकर 10 मिनट पर शुरू होकर शाम 6 बजकर 10 मिनट तक रहेगा | 



ये भी पढे

व्हाइट टी क्या है ? यह चाय इतनी महंगी क्यों होती है?

ग्रीन टी के नुक्सान

Green Coffee Beans Peene Ka Tarika और Fayde ग्रीन कॉफ़ी के फायदे



 

कहां-कहां दिखेगा चंद्र ग्रहण ?

यह चंद्र ग्रहण भारत समेत उत्तरी-पूर्वी यूरोप, एशिया, ऑस्ट्रेलिया, प्रशांत महासागर, हिन्द महासागर, उत्तर अमेरिका और दक्षिण अमेरिका के अधिकांश हिस्सों से देखा जा सकता है | 

दक्षिणी-पश्चिमी यूरोप और अफ्रीका महाद्वीप से कोई ग्रहण दिखाई नहीं देगा | भारत में, पूर्ण ग्रहण केवल पूर्वी भागों से ही दिखाई देगा, जिनमें कोलकाता, सिलीगुड़ी, पटना, रांची, गुवाहाटी है | 

चंद्र ग्रहण में क्या न करें (Chandra Grahan 2022 )

 

  • चंद्र ग्रहण के समय कोई भी  शुभ काम या देवी-देवताओं की पूजा नहीं करनी चाहिए | 
  • चंद्र ग्रहण के समय  भोजन नहीं बना चाहिए और न कुछ खाना-पीना चाहिए | 
  • चंद्रग्रहण के समय  गर्भवती महिलाओं का ग्रहण नहीं देखना चाहिए और न ही घर से बाहर जाना चाहिए |  
  • चंद्रग्रहण के समय  तुलसी और अन्य पेड़-पौधों नहीं छूने  चाहिए | 

चंद्र ग्रहण में क्या करें (Chandra Grahan 2022 )

  • सूतक  शुरू होने से पहले ही खाने-पीने की चीजों में तुलसी के पत्तो को डालकर रखना चाहिए | 
  • ग्रहण के समय अपने इष्ट देवी-देवताओं के नाम का स्मरण करना चाहिए | 
  • ग्रहण के समय इसके असर को कम करने के लिए चंद्रमा से जुड़े हुए मंत्रों का जाप करना चाहिए | 
  • ग्रहण खत्म होने पर पूरे घर में गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए | 

किन राशियों पर पड़ेगा इसका असर ?

08 नवंबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण का पांच राशियों पर सबसे ज्यादा असर पड़ने वाला है. इसलिए इन राशि के जातकों को संभलकर रहने की सलाह दी जा रही है | 

इसमें वृष, मिथुन, कन्या, तुला और वृश्चिक राशि के जातकों को सावधान रहने की आववश्यकता है | इन जातकों को सेहत, आर्थिक, करियर और कारोबार के मोर्चे पर नुकसान उठाना पड़ सकता है |