Home संबंध Divorce In India Are Getting High Hindi

Divorce In India Are Getting High Hindi

मेरे दोस्त की हाल ही में शादी हुयी और मैं हैरान रह गया जब उसने मुझे कॉल किया और पूछा Divorce kya hai aur Why divorce in India are getting high Hindi ?

क्या 5 महीने में ही उसका Talak हो गया ?

कुछ समय पहले ही हमारी बात हुयी थी उसने बताया था की उसके घर में माहौल ठीक नहीं है तो मेने उसे समझाया था की बात कर ले क्योंकि आज कल Divorce बहुत ज्यादा हो रहे हैं।

पर समय रहते उसने किया नहीं और नतीज़ा निकला Talak एक और नंबर बढ़ गया Divorce In India में।

जब दो दिल मिलते हैं दो परिवार या दो सोचें मिलती हैं तो उसे शादी कहते हैं। पर जब वो सोच एक दूसरे के विपरीत जाए तो उसे talak या divorce कहते हैं।

तो आज हम सझने की कोशिश करेंगे की Divorce Kyu Hota Hai or Why number of Divorce in India are getting high

तो चलिए शुरू करते हैं  Divorce kyaa hai aur Divorce hota kyo hai Divorce se kese bache और Why divorce in India are getting high Hindi ?

Divorce kyo aur kya ?

जब दो लोगों को एक संबंध में बांधा जाता है या वो खुद उस संबंध में बंधते हैं तो काफी चीज़ें उनके ऊपर आ जाती हैं।

कभी कभी लोग उन सभी से परेशान हो जाते हैं और बस भाग जाना चाहते हैं।

जब ये बहुत हावी हो जाता है तो talak ka karn बन जाता है।

वैसे मैने Talak होने को दो कारणों में बांटा है।



– सोच
– सिचुएशन



तो चलिए एक-एक कर के एक्सप्लेन करते हैं इन्हें

सोच
a ) सोशल मीडिया :-

जैसे जैसे समय बीत रहा है टेक्नॉलजी हम पे हावी हो रही है। आज कल बहुत से रिश्ते सोशल मीडिया के कारण बन जाते हैं और उस से भी ज्यादा इसके कारण टूट भी जाते हैं।

होता क्या है की  पति पत्नी एक दूसरे से बात करने की बजाय सोशल मीडिआ पे ज्यादा एक्टिव रहते हैं।

ऐसे में जब भी ये देखते हैं की उनके स्पाउस ने किसी लड़के या लड़की की प्रोफाइल में बहुत ज्यादा लाइक किये हैं तो ये झगड़े का कारण बन जाता है।

b ) मोबाइल :-

पति पत्नी इस बात से मोस्टली झगड़ते हैं की उन्हें लगता है उनका स्पाउस किसी अनजान से बात कर रहे हैं।

वैसे मोस्टली झगड़े में ये देखा गया है की पति पत्नी एक दूसरे पे ये ही आरोप लगाते हैं की ये रात भर फ़ोन पे रहता /रहती है।

या कोई भी वजह फ़ोन से रिलेटेड ही।

c ) संदेह :-

कुछ लोग खुद के मन में खुद ही बना लेते हैं की ये ऐसा कर रहा है तो इसका पक्का ही कहीं कुछ चल रहा है।

फिर आप जैसे सोचते हो चीज़ें आप को वैसी ही दिखाई देती हैं।  किसी की इंटेंशन नहीं कुछ नहीं बस जैसा आप सोचते हो वैसा ही दिखाई देता है।

d ) अहम :-

लोगों के attitude और ईगो आपस में टकराने लगते हैं।  नतीजा तलाक।

लोग झुकने और दूसरों को समझने की कोशिश ही नहीं करते।  उन्हें दुनिया उसी रंग
की देखनी है जो उनका पसंदीदा कलर है।

पर ऐसा होता नहीं है दुनिया वहीं खत्म नहीं होती जहां आप की नज़रें खत्म होती हैं।

e ) वेब सीरीज /एडल्ट फ़िल्में –

हमने पोर्न की लत से कैसे बचें वाले आर्टिकल में आप को बताया था की कैसे ये सब चीज़ें आप के दिमाग से खेलती हैं।

पोर्न से बचें (पढ़ने के लिए क्लिक करें )

लोगों की फेंटसी बहुत ज्यादा होती है पर हक्कित में ऐसा कुछ नहीं होता और नतीजा talak।

सिचुएशन

यह एक ऐसी स्थति है जहां आप चाह के भी कुछ नहीं कर सकते हो क्योंकि आप के हाथ में कुछ नहीं होता।  समय ही ऐसा होता है की आप कुछ नहीं कर सकते।

a ) समय :-

आज कल तो समय इतना तेज़ दौड़ता है की लगता ही नहीं की 24 घंटे होते हैं दिन में ऐसा लगता है की बस 12 -14 घंटे ही हैं।

ऐसे में लोग अपने साथी को समय नहीं दे पाते और नतीजा ये ही निकलता है की talak।

b) धीरज :-

लोगों को जल्द से जल्द सब कुछ चाहिए चाहे तरकी हो या परिवार में कुछ भी हो उन्हें चाहिए तुरंत धीरज तो लोगों में है ही नहीं।

ऐसे में जब एक दूसरे को ऐसा कुछ करते देखते हैं जो उन्हें ना पसंद हो तो झगड़ा हो जाता है।

c) कम्पटीशन दुनिया :-

आज कल कम्पटीशन इतना ज्यादा हो चुका है की घर पर भी पति पत्नी में कम्पटीशन रहता ही है।

खासतौर से अगर दोनों एक ही कंपनी में हैं तो झगड़े के चान्सेस ज्यादा हो जाते हैं।

d ) घरवाले :-

कोई नया आप के परिवार में आ जाता है तो समझिये परिवार तो पुराना ही है पर वो व्यक्ति नया है |

परिवार के विचार और स्पाउस के विचार जब आपस में टकराते हैं तो झगड़ा होता है।  अगर सही समय पे ध्यान ना दिया जाए तो ये बात तलाक तक पहुंच जाती है।

तो अब तक तो आप समझ ही हए होंगे की talak kyaa hai aur Divorce hota kyo hai अब बात करते  हैं talak se kese bache

Talak se Kese bache

तो पहले आप एक बार शादी के 10 गोल्डन रूल्स पढ़ लें (अभी पढ़ें )शायद ये नौबत ही ना आये।

बाकी उसके अलावा



  • बोलें
  • झूठ और फरेब से परहेज़ करें
  • चीज़ें समझाएं ताने ना मारें
  • बार बार ज्यादा मजाकिया ना बनें सिचुएशन के हिसाब से बात करें और समझें
  • ज्यादा ज़िद्दी ना बने
  • बात करें समझाएं थोपें ना
  • रेस्पेक्ट करें एक दूसरे की एक दूसरे के परिवार की
  • डाउट ना करें बिन बात के
  • दूसरे की प्राइवेसी का ध्यान दें
  • दोनों पक्षों की सुनें
  • खुद को व्यस्त रखें और प्लानिंग से चलें (प्लानिंग के बारे में पढ़ें )
  • शादी के समय सब सोच लें ( लव मैरिज या अरेंज मैरिज )


अगर आप ने ध्यान दिया हो तो ऊपर की सभी बातों में एक चीज़ नहीं है वो है अंडरस्टैंडिंग या बात चीत।

तो अपने स्पाउस से बातें करें समझें की वो क्या चाहते हैं उन्हें अपना पॉइंट ऑफ़ व्यू समझाएं।

यकीन मानिये साथ मिल के चलेंगे तो ज़िंदगी रंगीन बन जाएगी नहीं तो ग़मगीन तो है ही।

उम्मीद करता हूँ आप को Divorce kya hai aur Why Divorce In India Are Getting High Hindi के कारण आप को समझ आ गए होंगे ।

कोई सुझाव कोई शिकायत हो तो हमें कमेंट सेक्शन में बताएं ।