Home स्वास्थ Pregnancy Diet Chart for first three Months in hindi

Pregnancy Diet Chart for first three Months in hindi

Pregnancy Diet Chart for first three Months in hindi

Pregnancy के दौरान भूक ज्यादा लगती है कारण आप एक अंदर एक नया जीवन पल रहा होता है। ऐसे में बहुत ज़रूरी है की आप खान पान का ध्यान रखें। Pregnancy diet chart for first three months in hindi में हम कोशिश करेंगे आप की थोड़ी सी मदद करने की।

Pregnancy एक ऐसा समय होता है जब पुरे घर वाले खुश होते हैं। ऐसे में हर कोई आप को सलाह देता ही रहता है। कुछ तो ठीक होते हैं पर कुछ सिर्फ भ्रान्ति ही फैलाते हैं।

यह भी पढ़ें

shadi ke golden rules 
Depression ka kaam tmaam
Love marriage ya arrange marriage

इसमें मुख्य होता है खान पान को ले के। इस समय जो कुछ भी आप खाएंगे वो आप के बच्चे को लगेगा। अन्तः pregnancy के दौरान diet chart बहुत अहम भूमिका निभाता है, साथ ही यह month by month चेंज होता रहता है।

तो इसकी बात करने से पहले ये बात करनी भी जरूरी है की Pregnancy के दौरान किन पोषक तत्वों की कितनी मात्रा चाहिए।

पोषक तत्वों की मात्रा

पोषक तत्वों की मात्रा जो की आप को अपनी Pregnancy Diet Chart में रखनी चाहिए जो Month By Month बढ़ेंगी in hindi

वैसे एक समान्या महिला ( 50 se 60 kilo ) को 1800 से 2000 कैलोरीज की डेली जरूरत होती है। इस दौरान यह बढ़ के 2200 से 2500 जा सकता है।

 पौषक तत्व सामान्य महिला के लिए प्रेगनेंट महिला के लिए कार्य
प्रोटीन 46-50  ग्राम/दिन 60- 65 ग्राम/दिन यह मानव कोशिकाओं को बनने में मदद करता है। अन्तः बच्चे के सम्पूर्ण विकास के लिए यह बहुत जरूरी है।
कैल्शियम 1000  मिलीग्राम/दिन 1500  मिलीग्राम/दिन यह बच्चों की मजबूत हड्डियों वा दाँतों के लिए जरूरी है।
आयरन 15-20 मिलीग्राम/दिन 25-30  मिलीग्राम/दिन इसकी कमी की वजह से समय से पहले बच्चे का जन्म , जन्म के समय कम वजन  जैसी समस्याएं हो सकती हैं।
आयोडीन 150  मिलीग्राम/दिन 200  मिलीग्राम/दिन यह मेटाबोलिक दर , प्रजनन , विकास तथा  रक्त कोशिकाओं के कार्यों को नियंत्रित करता है।
फोलिक एसिड 100  मिलीग्राम/दिन 200  मिलीग्राम/दिन यह DNA और RNA के संश्लेषण और लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण के लिए आवश्यक है।

Pregnancy Diet Chart Month By Month in hindi for first three months

पहली तिमाही में आप को मॉर्निंग सिकनेस हो सकता है। इसके लिए ऊपर दिए गए पोषक तत्वों के अलावा आप को विटामिन B6 की मात्रा बढ़ानी पड़ेगी। साथ ही कैफीन के प्रयोग से बचें।

हमेशा कोशिश करें की 5 बार खाना खाएं।

सुबह का नास्ता दलिया /चीला बेसन का या सूजी का सब्ज़ियों के साथ /पोहा सब्ज़ियों के साथ + जूस /दूध छाछ
2 घंटे बाद कोई एक फल जैसे सेब , अमरुद , चीकू
दोपहर का खाना दाल+ चावल + रोटी + दही +सब्ज़ी
2 घंटे बाद सत्तू /लस्सी/आंवले का जूस /नारियल पानी /जूस  +स्प्राउट्स /मूंगफली /शकरगन्द /ढोकला
रात का खाना दाल+ चावल + रोटी + दही +सब्ज़ी

दाल में कोशिश करें राजमा /छोले /मसूर की दाल |

सब्ज़ी मौसमी ही लें | किसी भी प्रकार के केमिकल के प्रयोग से बचें।

चावल में आप डिफरेंट वेराइटीज ट्राई कर सकते हो। जैसे ;- जीरा चावल। चावल। पुलाओ आदि ।

कोशिश करें हफ्ते में एक दिन कुट्टू के आटे की रोटी खाने का।

स्ट्रेस से दूर रहें ।

एक्टिव रहें

गुड़ और चना खाएं

ये भी पढ़ें

Nutrition and pregnancy
Geeta
Kabir ke dohe kalyug ke liye
Best Hindi Motivational Books

उम्मीद करता हूँ आप को Pregnancy Diet Chart for first three Months in hindi पसंद आयीगी।

अगर कोई भी सवाल हो तो हमें पूछें।

Pregnancy Diet Chart for first three Months in hindi इतना ही बाकी आप के कमेंट अनुसार।