Home स्वास्थ Sonam Kapoor के पैरों में आई सूजन || प्रेग्नेंसी में क्यों आती...

Sonam Kapoor के पैरों में आई सूजन || प्रेग्नेंसी में क्यों आती है पैरों में सूजन इसके कारण और बचने के उपाय | Swollen feet during Pregnancy 

आज कल सोनम कपूर अपनी प्रेग्नेंसी को लेकर कोई न कोई फोटो डालती रहती है वो ऐसे तो अपनी प्रेग्नेंसी को एंजॉय कर रही है |

पर जैसे जैसे उनकी डिलीवरी डेट नजदीक आ रही है, वो अभी अपनी थर्ड ट्राइमेस्टर में हैं | पर एक्ट्रेस की परेशानियां बढ़ती ही जा रही हैं |

सोनम कपूर ने अपनी पैरों की सूजन के बारे में बातया है की उन के पैरो में सूजन आ गई है | 

यु तो प्रेग्‍नेंसी के नौ महीने किसी भी महिला के लिए आसान नहीं होते हैं | इस दौरान महिलाके शरीर में कई तरह के बदलावों होते है और स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से भी रूबरू होना पड़ता है | 

प्रेग्‍नेंसी के हर दिन चुनौतीपूर्ण और मुश्किलों से भरा होता है | प्रेग्‍नेंसी में पूरे शरीर में सूजन आ जाती है सबसे ज्यादा पैरों और हाथों में आती है |

गर्भवती महिलाओं को प्रेग्‍नेंसी में सूजन होने की बहुत शिकायत रहती है |

आइए जानते है की ऐसा क्यों होता है 

गर्भावस्‍था में सूजन क्‍यों आती है

प्रेग्‍नेंसी के समय शरीर को शिशु के विकास के लिए दिन-रात काम करना पड़ता है |  इस कारण से शरीर में खून और तरल पदार्थों की मात्रा बढ़ जाती है |

प्रेग्‍नेंसी के टाइम शरीर में खून का उत्‍पादन लगभग 50 फीसदी तक बढ़ जाता है | इस कारण से प्रेग्‍नेंसी में सूजन होने लगती है |

इस कारण से प्रेगनेंट महिलाओं के चेहरे, हाथों, टांगों और एड़ी में सूजन आती है | 



ये भी पढ़े

पहले तीन महीनों के लिए गर्भावस्था आहार चार्ट हिंदी में

Pregnancy Tips In Hindi

 



प्रेग्‍नेंसी में सूजन कब आना शुरू होती है

प्रेग्‍नेंसी में सूजन कभी भी आनी शुरू हो सकती है | ज्यादातर ऐसा प्रेग्‍नेंसी के पांचवें महीने और डिलीवरी के आसपास होता है |

इस के आलावा मौसम में बदलाव, लंबे समय तक खड़े रहने, थकान वाला काम करने, आहार में पोटैशियम कम लेने, कैफीन और सोडियम के अधिक सेवन करने के कारण भी प्रेग्‍नेंसी में सूजना सकती है |

ऐसे तो ​प्रेग्‍नेंसी में सूजन आना परेशानी की बात नहीं है लेकिन अगर अचानक हाथों और पैरों में सूजन आ जाती है तो इसे आपको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए | 

ये प्री-क्‍लैंप्‍सिया का संकेत हो सकता है।

क्या है प्री-क्‍लैंप्‍सिया

प्रेग्‍नेंसी में हाई ब्‍लड प्रेशर, पेशाब में प्रोटीन आना जैसी स्थिति होती है।

इस में पैरों, टांगों और बांह में सूजन आने लगती है ,इस को प्रीक्‍लैंप्‍सिया कहते हैं | इसलिय आप को ये नजरअंदाज नहीं करना चाहिए और अपने डॉक्टर के पास जाना चाहिए | 

प्रेग्‍नेंसी में सूजन की समस्या को दूर करने के उपाय

अगर आप की ​प्रेग्‍नेंसी में आप को सूजन की दिक्‍कत हो रही है तो आप को ये टिप्स अपनाने चाहिए :

आप लगातार एक पोजीशन में न रहें | जब आप बैठते हो या खड़े होते हो तो उस टाइम खून का प्रवाह बेहतर होता है, इस कारण से हाथ एवं पैरों की सूजन कम  होती है | 

  1. करवट लेकर सोने से भी सूजन से काफी राहत मिल सकती है | यहा शिशु और         किडनी दोनों के लिए अच्‍छा होता है | इस टाइम आप को खूब पानी पिए इस से आप के शरीर में जो अतिरिक्‍त फ्लूइड होता है उस को बाहर निकलता है | 
  2. आप प्रेग्‍नेंसी के टाइम कुछ सेफ एक्‍सरसाइज कर सकती हैं | एक्‍सरसाइज से खून का प्रवाह बेहतर होता है ,और आप के हाथ-पैरों के टिस्सुस (tissues) में जमा फ्लूइड बाहर निकलता है | जब भी आपको टाइम मिले आप अपने पैरों को थोड़ा ऊपर उठाकर बैठ जाएं |  कुछ देर तक ऐसे बैठने से आप के पैरों में जमा हुआ फ्लूइड को बाहर निकालने में मदद मिल सकती है |
  3. आप एक बाल्टी में गुनगुना पानी लेकर इसमें एप्सम सॉल्ट(epsom salt)             मिलाकर 15 से 20 मिनट तक रिलैक्स करने से भी सूजन उतर जाती है |
  4. मैग्नीशियम की कमी से भी पैरों में सूजन आ जाती है |  इसलिए आप को अपनी डाइट में थोड़ा बदलबा करके आप  बादाम,काजू ,पालक, एवोकाडो, डाक चॉकलेट शामिल कर सकते है |  साथ ही कम सोडियम वाला खाना भी खाएं |
  5.  कई बार आप के शरीर का वजन बढ़ने से भी सूजन आ जाती है इसलिए आप अपने वजन को नियंत्रण में ही रखें |
  6. आप अपने पैरों की सूजन को मसाज के जरिए भी ठीक कर सकते हैं | पैरों को रिलैक्स मूड में रखकर एसेंशियल ऑयल को डाइल्यूट करके मसाज करने से भी सूजन में कमी आती है | 


ये भी पढ़े

How much water to drink a day in Hindi?

अपना ध्यान केसे रखे



आप को ​डायट में क्‍या लेना चाहिए 

आप को इस टाइम पौष्टिक डायट लेनी चाहिए | अगर आप के आहार में पोटैशियम कम हो तो आप को सूजन हो सकते है और ये कभी ये गंभीर रूप ले सकता  है |  पोटैशियम सही मात्रा में फ्लूइड स्‍टोर करने के लिए शरीर की मदद करता है |  प्रीनैटल विटामिन में आपको पोटैशियम लेना चाहिए लेकिन कुछ खाद्य पदार्थों से भी इसकी पूर्ति की जा सकती है | 

आलू, शकरकंद, केले, पालक, बींस, अनार का जूस, संतरे का जूस और गाजर का जूस, दही, चुकंदर, दालों में अधिक मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है | 

कोशिश करें कि शरीर में जरूरी विटामिन और मिनरल्स की कमी ना हो,और साथ ही संतुलित आहार का सेवन कर के पैरों की सूजन की समस्या को दूर कर सकते है |