Home रंग रूप व्हाइट टी क्या है ? यह चाय इतनी महंगी क्यों होती है? |...

व्हाइट टी क्या है ? यह चाय इतनी महंगी क्यों होती है? | What is White Tea? Why is this tea so expensive?

चाय पियो सेहत बनाओ सुन के अटपटा तो लगा ही होगा पर क्या हो अगर में कहु ये सच है तो 

जी हाँ बदलते दौर के साथ चीज़ें भी बदल रही है और जैसे जैसे हम हेल्थ कौन्सियस (Health Conscious) हो रहे हैं हम ऐसी और भी चीज़ों के तरफ ध्यान दे रहे हैं।  पहले नार्मल टी फिर ग्रीन टी और अब वाइट टी 

चलिए बात करते हैं व्हाइट टी (White Tea) की | 

 क्या है व्हाइट टी ?

इस में चाय के पौधे, कैमेलिया सिनेंसिस (camellia sinensis) की नई पत्तियों और कलियों को  सफेद चाय बनाने के लिए सुखाया जाता है |

  इस में कलियों को बहुत पहले ही तोड़ा लिया जाता है, जहां वे  सफेद पंख से ढके रहते हैं और इस कारण इसका नाम ‘व्हाइट टी’ है।

जल्दी तोड़े जाने की वजह से पत्तियों और कलियों को ऑक्सीकृत(Oxidized) होने का मौका नहीं मिलता है क्योंकि जब ये  तोड़ों जाते  हैं तो वे हवा में सूख जाते हैं ।

जिससे सफेद चाय कैमेलिया सिनेंसिस (camellia sinensis) पौधे से बनी ये  चायों दूसरी सभी चाय में सबसे ताज़ी किस्म की चाय मानी जाती है।

पत्तियों को किसी हीट ड्रायर से नहीं सुखाया जाता बल्कि इन्हें सूखने के लिए प्राकृतिक रूप से छोड़ दिया जाता है। जीरो आक्सीडाइस (oxidise) होनी की वजह से यह बहुत हेल्दी होती है। 



यह भी पढ़ें

ग्रीन टी के नुकसान

सुन्दर कैसे बने ?



व्हाइट टी के प्रकार -:

सिल्वर व्हाइट टी (Silver Needle White Tea)

सिल्वर नीडल चाय चीन में उगाई जाने वाली सफेद चाय की एक प्रकार है | यह  सबसे प्रीमियम(premium) किस्म में से एक है।

यह सफेद बालों से ढकी बड़ी कलियों से बनाई जाती है और इसलिए इसे ‘सिल्वर’ व्हाइट टी कहा जाता है।

व्हाइट पेओनी टी (White Peony Tea)

 

यह  चाय की खेती चाय के पौधे की खुली कलियों से की जाती है।

एक झिलमिलाती (shimmering) बनावट होती है इसके साथ इसमें  मीठा और पौष्टिक स्वाद (nutty flavor) होता है। 

यह चाय आपके किडनी(kidney) के लिए अच्छी होती है।

मंकी पिक्ड टी ( Monkey Picked White Tea)

अफवाह  है कि बौद्ध प्रशिक्षित बंदरों (Buddhist Trained Monkeys) ने चीन के पहाड़ी क्षेत्रों में इस चाय की खेती की।

सफेद चाय की यह किस्म मधुमेह (diabetes) के रोगियों के लिए बहुत अच्छी होती  है और वजन घटाने में भी सहायक है।

दार्जिलिंग व्हाइट टी (Darjeeling White Tea)

दार्जिलिंग व्हाइट टी अपने हीलिंग प्रॉपर्टीज (healing properties) के लिए सबसे अच्छी तरह से जानी जाती है।

सफेद चाय की इस किस्म में मरने से लड़ने की शक्ति होती है और इसे बीमार व्यक्ति को दिया जा सकता है। 

व्हाइट टी के क्या फायदे है ?

 

सूजन को कम करती है

 

व्हाइट टी में पाॅलीफेनाॅल्स की मात्रा बहुत होती है जो  एंटी ऑक्सीडेंट (anti oxidant) के  तरह काम करती है |

ये शरीर को ऑक्सीडेटिव (oxidative) नुकसान से बचाती है और सूजन को कम करने में काफी मदद करती है | 

डायबिटीज़ को कंट्रोल करने में सहायक

 

व्हाइट टी डायबिटीज़ को कंट्रोल करने में सहायता करती है |

  इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं |  जो इंसुलिन प्रतिरोध (insulin resistance) के खतरे को कम करने में मदद करते हैं |

यहा ब्लड ग्लूकोज लेवल को कम रखता हैं | साथ ही ये मसल्स में भी ग्लूकोज लेवल को बढ़ने नहीं देते हैं| 

जिन लोगों की शुगर हाई रहती है, उनके व्हाइट टी का इस्तमाल करना चाहिए परन्तु जीन लोगो का शुगर लोरहता है उन को इस को नही पीना चाहिए |  

स्किन के लिए भी है फायदेमंद

व्हाइट टी में एंटी-एजिंग और एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं |

ये स्किन को टाइट और ग्लोइंग बनाने में मदद करते हैं. साथ ही उम्र से पहले स्किन पर रिंकल्स भी नहीं होने देते हैं | 



यह भी पढ़ें

एक दिन में कितना पानी पीना है ?

अंडे खाने के नुक्सान



व्हाइट टी महंगी क्यों होती है ?

 

 जिस तरह से इस चाय की कटाई की जाती है उस तरह से किसी और चाय की कटाई नहीं होती है इस लिया ये महंगी होती है |

व्हाइट टी उसी पौधे से आती है, जहां से काली और हरी चाय निकलती है, लेकिन व्हाइट टी की खेती करने का ,जो तरीका है ।

वो इस बाकी और चयो से अलग करती है । इसकी फसल को उगाने और देखभाल की पूरी प्रक्रिया बहुत ज्यादा समय लेने वाली होती है ।

क्योंकि इस चाय के उत्पादन में केवल छोटी कलियां और पत्तियां इस्तेमाल में लाई जाती है।  व्हाइट टी  की खेती करना काफी मुश्किल है, जिससे यह थोड़ी महंगी हो जाती है।

व्हाइट टी के क्या नुकसान है ?

जितने ज्यादा व्हाइट टी के फायदे हैं उसके मुकाबले इसके नुकसान कम हैं। इसके नुकसान इसमें मौजूद कैफीन से जुड़े हुए हैं।

अधिक मात्रा में व्हाइट टी का सेवन करने से नींद कम आती है, सुस्ती होती है और गैस की परेशानी भी होती है।

व्हाइट टी में कैफीन की  मात्रा बहुत कम होती है | इसलिए इस से ज्यादा नुकसान नही होता है |